Monday, 26 March 2018

Latest Rajputana Zindgi Quotes And Shayari


Rajputana Zindgi Quotes

कोशिश तो सब करते है लेकिन सबका राज नही होता Attitude तो सबके पास है लेकिन हमारे जैसा अंदाज नही होता

Rajputana Zindgi Shayari

एक राजपूत की समाधी पे दो दो जगह मेले लगते है, पहला जहाँ उसका सर कटा था और दूसरा जहाँ उसका धड लड़ते हुए गिरा था

Latest Rajputana Zindgi Quotes

कतरा कतरा चाहे बह जाये लहू बदन का, कर्ज उतर दूंगा ये वादा आज मैं कर आया !! हँसते - हँसते खेल जाऊंगा प्राण रणभूमि में, ये केसरिया वस्त्र मैं आज धारण कर आया !!

Latest Rajputana Zindgi Shayar

यूँ मुड़ मुड़ के मत देख पगली , इस दिल में राजपुताना बसा है तेरा रास्ता अलग है ,मेरी मंज़िल अलग है तुझे खुशियों का घर बसाना है और मुझे मेरा राजपुताना वापिस लाना है!

Maharana partap Status

जंग खाई तलवार से युद्ध नही लड़े जाते, लंगडे घोड़े पे दाव नही लगाये जाते, वीर तो लाखों होते है पर सभी महाराणा प्रताप नही होते , पूत तो होते है धरती पे सभी पर सभी “राजपूत” नही होते!

Rajputana Poem

कोई पूछे कितना था राणा का भाला तो कहना कि अकबर के जितना था भाला जो पूछे कोई कैसे उठता था भाला बता देना हाथों में ज्यों नाचे माला चलाता था राणा जब रण में ये भाला उठा देता पांवों को मुग़लों के भाला जो पूछे कभी क्यों न अकबर लड़ा तो बता देना कारण था राणा का भाला

Rajputana royal Status

पहचान क्या होती है ?? दुनिया को हम बतायेंगे बिना नाम आये थे पर बिना नाम किये नहीं जायेंगे

Jo Nahi Ladte Kabhi Apne Swarth Ke Liye, Aarkshan Pane Ko.
Jaan Danv Par Laga Dete Hai, Bachane Apne Swabhiman Ko.
Hun Me Ek Chota Sa Hissa Us Mahan Rajput Samaj Ka.
Mujhe Is Baat Ka Garv Ha

Rajputana Quotes

कतरा कतरा चाहे बह जाये लहू बदन का, कर्ज उतर दूंगा ये वादा आज मैं कर आया !! हँसते - हँसते खेल जाऊंगा प्राण रणभूमि में, ये केसरिया वस्त्र मैं आज धारण कर आया !!

Rajputana Love shayari

मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे, अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती । क्या तुम्हारे पास है अपना तो इतिहास राजपूत होना भी बहुत खास बात है ।

सुनो बाईसा शुक्र है कि ये दिल सिर्फ़ धड़कता है अगर बोलता तो कयामत आ जाती. नीयत हमारी साफ। दिल मे प्यार भरे जज्बात। हम तो है बन्नासा। रॉयल हे हमारा हर अंदाज।

Rajputana Veer Ras Shayri

प्यासी तलवारों को योद्धा रक्त पिलाने बैठे हैं , मेरे राजपूत शेर शिकार करने के लिए बैठे हैं ! दुखों का पहाड़ झुकाने सूरमा आज गंभीर बैठे हैं , मेरे वीर राजपूत इतिहास लिखने के लिए बैठे हैं

रण में जीना रण में मरना यही राजपूताना का धर्म है. तलवार हाथ में बंदुक काख में सिर पे केसरिया साफा यही राजपूताना की शान है. किसकी मजाल जो छेड़े दिलेर को गरदीश में घेर लेते हैं गिदड़ भी शेर को.

Gujrati rajput status

ભલ ઘોડા વલ વંકડા હલ બાંધવા હથિયાર જાજી ફોજુ માં અનેક ફરે
બાકી ઝાલા ના દિકરા બાપ એકલા ફરે જય માતાજી

પાધડી _વાળા _છીઅે_ વાલા માન_ મા_ માથૂ _ઉતારી_ પણ_ દઈઅે_ અને..
અપમાન_ મા _માથુ_ ઉડાવી_ પણ _ દઈઅે

No comments:

Post a Comment

Thanks For Your Feedback

All Right Reserved © Rajputstatus.com